गज़ाला

आँखें ! हंसती, रोती, लजाती, घूरती, नाचती, बोलती…. आंखें ! आँखों में देखो तो लगता है कोई एक और छुपा बैठा है हर इंसान के भीतर .
मन करता है चार्ल्स डार्विन से कहूं , ” नहीं सर नहीं , बाकी आप शायद सही हैं, पर आँखें ऐसे ही नहीं बनी, कोई तो करिश्मा हुआ है .”
फिर औरत की आँखें ? माशा अल्लाह ! और औरत भी जब बुरका पहने हो तो तौबा मेरी तौबा. आँखों में देखकर बुर्के में छुपे खूबसूरत बुत की तस्वीर भी उतारनी होती है .
आज तीसरा दिन था . फिर सबवे के पास बेंच पर बैठी दिखी वह अछूती अरबी सुंदरी . फिर मुझे लगा पिछले तीन दिन से ये आँखें मुझे बुला रही हैं . पता नहीं नाम क्या था , मेरे दिल ने कहा, ” गज़ाला !”
” उस्मान मियां मुझे इस औरत से बात करनी है. इन आँखों में मुझे मुहब्बत दिख रही है. इनकी कशिश मुझे खींच रही है .”
” हे पागल हुआ है क्या ? 10-२० दिराम मांगेगी , इंडिया का दो सौ चार सौ रुपया होता है . भिखारिन है भिखारिन .”
“क्या बात कर रहे हो दादा ? इतनी ख़ूबसूरत औरत भीख मांगेगी ? इसकी आँखें तो देखो, कैसे सेक्स से लबालब हैं . कसम से इंडिया में तो लाइन लग जाये .”
“यह शारजाह है बेटा . औरत के नज़दीक गए और उसने शिकायत कर दी तो दो मिनिट में अंदर हो जाओगे. और यह सेक्स नहीं है, भूख है . अपनी मजबूरी को सेक्स का मेक- अप करना हर औरत को आता है . उसको मालूम है आदमी पर कुछ नहीं बस सेक्स का जादू चलता है . यह सब यमन और सीरिया से आयी हैं . उधर खाने के लिए भी कुछ नहीं बचा है, मालूम ? मुहब्बत दिख रही है, ललुआ को !”
मेरा मन नहीं माना . १० दिर्हाम जायेंगे ना ! मैं थोड़ी देर में फिर आ गया . जेब टटोली तो एक ही नोट था ५० दिर्हाम का . जी को समझाया .
वह मुझे अब भी वैसे ही देख रही थी . ” आ मेरे पास आ. मुझ से बात कर !”
इतने में एक लम्बा तगड़ा आदमी आया . उसने झट से उस औरत को उठा कर कंधे पर लाद लिया . मेरी आंखें फटी रह गयी . वह बस आधी औरत थी .. ऊपर की आधी .. धड़ धड़ .. उसके पैर थे ही नहीं .
उस आदमी के कंधे पर पड़ी, घायल हिरणी सी, वह मुझे अब भी घूर रही थी.
पता नहीं वह कौन था , उसका कोई अपना, या कोई आखेटक.
मैंने मुंह खोलना चाहा , “गज़ाला…!” पर जुबां ने साथ नहीं दिया.
मेरी अंगुलियां जेब में ५० दिर्हाम के नोट को मसोसती रह गयी.

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s